Saturday, February 4Read New Facts in Hindi with Us!

Affirmation के लाभ

आपने Affirmation का नाम नही सुना होगा लेकिन आपने ऐसा तो जरूर से सुना होगा की जेसा बोलोगे वेसा ही होगा। जेसे की ‘मैं खुश हूँ’, ‘मैं पैसे वाला हूँ’, ‘मैं नाशिबदार हूँ’, ‘मैं स्मार्ट हूँ’ – ऐसा बोलोगे तो समय के साथ साथ आप बन जाओगे ओर बन जाते हो।

Affirmation ऐसा शब्द आपने सुना नही भी हो सकता लेकिन – उपर जो भी बात मेने कही है आपने इसे सुना ही होगा।

तो “मैं” __ “हूँ” इस दो शब्द को Affirmation कहते है लेकिन हमारे लिए ये जरूरी नही है की इसे क्या कहते है – हमारे लिए जरूरी तो ये है की ये चीज़ काम केसे करती है ओर इस चीज़ को हमे क्यू करनी चाहिए! तो चलो हमारी बाते शुरू करते है,

जेसे पुन-पुन करने से हमारे पुन बढ़ते है ओर जेसे पाप-पाप करने से हमारे पाप बढ़ते है वेसे की एक चीज़ बार-बार बोलने से वो चीज़ हकीकत बन कर सामने आ जाती है। जेसे की आप बोलते हो की ‘मैं खुश हूँ’-‘मैं खुश हूँ’ तो थोड़े समय के बाद आप खुद से ही खुश रहना चालू कर देते हो – ये जो आप बार-बार बोलते हो तो इसकी ऊर्जा आपको किसी भी तरह से खुश रखने की कोसिस करती है ओर फिर आप अपने आप खुश रहना चालू कर देते है।

ये जो Affirmation चीज़ हैना ये काम केसे करती है मालूम है -> ये चीज़ ऐसे काम करती है की आप जो भी बार-बार बोलते हो वो जो आपने बोला है वो चीज़ आपके दिमाग को मालूम चलती है जेसे के आप बोलते हो की ‘मैं अमीर हूँ’, ‘मैं अमीर हूँ’ तो अभी आप नही है लेकिन ऐसा बार बार बोलने से आपके दिमाग को लगने लगेगा की आप अमीर है तो ये जो आप बार-बार बोलते होना ओर दिमाग ये दोनों की ऊर्जा पूरे ब्रम्हांड मे फेर जाती है ओर ब्रम्हांड को बताती है की आप अमीर है तो थोड़े समय के बाद आप के पास पैसा आने लगते है। मतलब की आपके पास पैसे कमाने के लिए काम आने लगता है, आपके पास ब्रम्हांड के तरफ से ऐसी चिजे आती है जिसके वजे से आप ज्यादा पैसा कमाते हो।

ये चीज़ कुछ 4-5 दिन की नही है की आप बोल रहे है की ‘मैं अमीर हूँ’ ओर 5 दिन मे ही आप अमीन बन गए नही ऐसा नही इसमे समय लगता है लेकिन हा आप एक दिन अमीर बनते हो की नहीं वो तो नही मालूम लेकिन आप एक दिन अच्छे-खासे पैसे कमाने लग जाते हो (पहले की परिस्थ्ति से अच्छी परिस्थिति मे पोहोच जाते हो।)

आपको अपने जीवन मे बदलाव लाने के लिए Affirmation का उपयोग करना चाहिए। + मे तो बोलता हु की आप कीजिए, एक दिन आएगा की आपकी बोली हुई चीज़ ‘हकीकत’ बन जाएगी। (ओर उस चीज़ को हकीकत मे लाने वाले भी आप ही होंगे।)

आपने अपने आजू-बाजू भी बड़े-बूढ़े लोग को बोलते सुना होगा की जेसा बोलोगे वेसा होगा। + तो बस Affirmation भी येही है – आप अपने बारे मे जेसा बोलते हो = वेसे आप बनते हो। (आपको हंमेसा अपने बारे मे अच्छा ही बोलना है।)

जेसे की ‘मैं खुश हूँ’, ‘मैं होशियार हूँ’, मैं टोप्पर हूँ’, ‘मैं खुशनशिब हूँ’, ‘मैं अच्छा इंसान हूँ’, ‘मैं शांत हूँ’, ‘मैं अमीर हूँ’, ‘मैं महेनती हूँ’, ऐसा आप अपने बारे मे जो बोलोगे वेसा आप के साथ होगा ओर आप वेसे बन जाओगे।

यहा पर Affirmation के उपर बात मेरी खतम होती है, अगर आपको इसके बारे मे कुछ कहना है तो आप कमेंट करके हमे जरूर बताना।

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *